Sunday, March 14, 2010

विक्रमी नव सम्वत २०६७ की बहुत २ शुभकामनायें

विक्रमी नव सम्वत २०६७ की बहुत २ शुभकामनायें
भारत के महान इतिहास के स्वर्णिम इतिहास कीव विश्व की महानतम घटना विद्वान् पराक्रमी व प्रजा पालक सम्राट विक्मादित्य द्वारा नव सम्वत प्रारम्भ करने की पवित्र यादमें व सम्वत २०६७ के शुभारम्भ पर सभी मित्रों को मेरी बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनायें
आप सभी के लिए यह शोभन नाम का सम्वत बहुत २ प्रसन्नता लाये आप का जीवन सदा खुशियों से भरा रहे हमारा राष्ट्र उन्नति करे देश वासी खुसी से जीवन बीतें आतंकवाद का सफाया हो यही मरी इस अवसर पर परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना है
डॉ वेद व्यथित

3 comments:

aarya said...

सादर वन्दे!
आपको भी नव वर्ष 2067 व युगाब्द 5112 के साथ साथ नवरात्रि की शुभकामनाएं.
रत्नेश त्रिपाठी

shashisinghal said...

डा. वेद जी ,
आपको भी नव संवत्सर 2067 व नवरात्र की बहुत - बहुत शुभकामनाएं ...
धन्यवाद , आप मेरे ब्लॉग पर आए ।

फ़िरदौस ख़ान said...

आपको भी नववर्ष व नवरात्रि की शुभकामनाएं...