Sunday, October 23, 2011

मित्रों आप सभी के लिए दीपोत्सव पर हार्दिक मंगल कामनाएं करता हूँ कृपया स्वीकार कर के अनुग्रहित करें
मन दीप सजाया है
दीवाली आई है
खुशियों का उजाला है ||
--------------------
दीपों का उत्सव है
तुम्हें खुशियाँ खूब मिलें
मेरा ऐसा मन है ||
--------------------
मन दीपक हो जाये
अंधियारे दूर रहें
उजियारा हो जाये ||
---------------
मन में दीवाली है
दिल दीप जलाया है
उस की उजियारी है ||
---------------------
जब भी वो आयेंगे
अँधेरा नही रहना
दीपक जल जायेंगे ||
---------------------

2 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

आपको दीवाली की शुभकामनायें।

वन्दना said...

दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें।