Tuesday, March 6, 2012

रंगोत्सव

नेता जी भी रंग गये नीले पीले रंग
चेहरा उनका हो गया होली में बहुरंग
होली में बहुरंग हुए ही घर जा पहुंचे
घरवालों ने पूछा आये किस से मिलने
पत्नी बोली वे तो जी बाहर गये हैं
मिलने आना कल आज वे घर में नही हैं ||

ननुआ ने तो भंग चढाई धोती फाडी ललुआ ने
कर रुमाल धुतिया के भैया ताल लगाई कलुआ ने
दिल्ली चौंकी सब जग चौंका खूब सुनाई दिगिया ने
बड़ी में के गिर चरणों में धोक लगाई मनुआ ने ||

चीनी मिल रही पांच रुपैया कडुवा तेल मुफ्त में हैं
डाल मिल रही दो दो रूपियारोटी संग मुफ्त में है
कैसा सुंदर राज है भैया होली खूब मनाओ जी
हाथों को मलते रह जाओ लाली खूब मुफ्त में है ||

गोरी ने s m s भेजा आओ रंग बरसायें
बिन पानी के नीले पीले सारे रंग बरसायें
बिन पानी के भाभी देवर होली खूब मनाएं
अब तो s m s की होली फोन में खूब मनाएं ||

भाभी ने देवर को भेजा s m s का गुलाब
देवर ने भाभी पर डाला फोन में खूब गुलाल
होली के सब रंग बिखर गये हुई न शर्ट खराब
न देवर ने कोड़े खाए गाल न हुए गुलाल ||

मिस काल कर रहे हैं संदेश भेजते हैं
इ मेल से ही प्यारा सा खत भेजते हैं
अब यंत्र ही हैं साधन इस पर ही प्यार निर्भर
इस यंत्र से ही अपना वो प्यार भेजते हैं ||

डॉ. वेद व्यथित
०९८६८८४२६८८

10 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

सबको होली की शुभकामनायें..

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

शुभ होली!

वन्दना said...

बेहद खूबसूरत रंगमयी प्रस्तुति………… होली की हार्दिक शुभकामनाएँ !

प्रसन्न वदन चतुर्वेदी said...

सुन्दर प्रस्तुति....बहुत बहुत बधाई...होली की शुभकामनाएं....

Sawai Singh Rajpurohit said...

आप को सपरिवार होली की शुभ कामनायें .............

"आपका सवाई "

smshindi By Sonu said...

Very Very Nice Post

smshindi By Sonu said...

होली की हार्दिक शुभकामनाएँ !

smshindi By Sonu said...

होली की हार्दिक शुभकामनाएँ !

prerna argal said...

आपकी पोस्ट आज की ब्लोगर्स वीकली मीट (३४) में शामिल की गई है /आप आइये और अपने विचारों से हमें अवगत करिए /आप इसी तरह मेहनत और लगन से हिंदी की सेवा करते रहें यही कामना है /आभार /लिंक है
http://hbfint.blogspot.in/2012/03/34-brain-food.html

Sawai Singh Rajpurohit said...

बहुत सुन्दर रचना
" सवाई सिंह "