Saturday, March 31, 2012

मित्रो शुभकामनाओ के साथ आओ भगवान श्री राम जी की सेना के योद्धा बने और राक्षसों के विनाश के सहभागी बने
१ कभी भी अपने धर्म की आलोचना न सुने
२ जो हमारे धर्म की बुराई करे उस का प्रतिकार करें
३ अपने पूर्वजों पर हमे गर्व होना ही चाहिए
४ केवल हिन्दू संस्कृति ही विश्व की सर्वोत्तम संस्कृति है
यह बात सदा धयान में रहनी चाहिए क्यों कि यह बात प्रमाणिक है
५ यह संस्कृति अन्य मतों की भांति किसी भी मत सम्प्रदाय या प्राणी से नफरत नही सिखाती
इस लिए ही अनुसरणीय है
तो आओ हम सब जहाँ हैं वहाँ इस का सम्मान करें
यही श्री राम नवमी की शुभकामनायें है
आप इन्हें स्वीकार करें
डॉ. वेद व्यथित
०९८६८८४२६८८

2 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

आपके माध्यम से सबको रामनवमी की शुभकामनायें।

vandan gupta said...

राम नवमी की हार्दिक शुभकामनाएँ